#सतलोक_vs_पृथ्वीलोक

#सतलोक_VS_पृथ्वीलोक

सतलोक अविनाशी लोक है। जहाँ ऊंच-नीच की अवधारणा नहीं है। इस कारण द्वेष उत्पन्न नहीं होता।
जबकि पृथ्वी लोक पर ऊंच-नीच, छोटे-बड़े की आग में सारा संसार जल रहा है।
Eternal place Satlok https://t.co/js0sQZt0x8

#सतलोक_VS_पृथ्वीलोक सतलोक अविनाशी लोक है। जहाँ ऊंच-नीच की अवधारणा नहीं है। इस कारण द्वेष उत्पन्न नहीं होता। जबकि पृथ्वी लोक पर ऊंच-नीच, छोटे-बड़े की आग में सारा संसार जल रहा है। Eternal place Satlok https://t.co/js0sQZt0x8

#सतलोक_VS_पृथ्वीलोक स्वर्ग से भी अच्छा है सतलोक जहा पूर्ण परमात्मा कबीर साहेब रहते है । सतलोक जाने के लिए सत भक्ति आवश्यक है और पूरे विश्व मे सत भक्ति केवल Saint Rampal Ji Maharaj ही बताते है। Visit satlok ashram YouTube channel... https://t.co/UL0lRveOrt

#सतलोक_VS_पृथ्वीलोक
सतलोक Vs पृथ्वी लोक
सतलोक में जन्म व मृत्यु नहीं है।
जबकि पृथ्वी पर कुछ भी स्थाई नहीं है। सब नाश्वान है।

Eternal place Satlok https://t.co/Fm6V9NuIun

#सतलोक_VS_पृथ्वीलोक सतलोक Vs पृथ्वी लोक सतलोक में जन्म व मृत्यु नहीं है। जबकि पृथ्वी पर कुछ भी स्थाई नहीं है। सब नाश्वान है। Eternal place Satlok https://t.co/Fm6V9NuIun

#सतलोक_VS_पृथ्वीलोक
💦💦💦💦💦💦💦
🏡सतलोक में दूध की नदियां बहती हैं। वहां किसी वस्तु का अभाव नहीं।
जबकि पृथ्वी पर चारों तरफ गंदगी के ढेर लगे हैं। इस लोक को खोकापुर भी कहते हैं। यहां सब वस्तुओं का अभाव है।
Eternal place Satlok https://t.co/LXjv0LwQaW
2

#सतलोक_VS_पृथ्वीलोक 💦💦💦💦💦💦💦 🏡सतलोक में दूध की नदियां बहती हैं। वहां किसी वस्तु का अभाव नहीं। जबकि पृथ्वी पर चारों तरफ गंदगी के ढेर लगे हैं। इस लोक को खोकापुर भी कहते हैं। यहां सब वस्तुओं का अभाव है। Eternal place Satlok https://t.co/LXjv0LwQaW

#whendoesitstop
#GreatestGuru_InTheWorld 
#सतलोक_vs_पृथ्वीलोक 
Satlok is the eternal place where god kabir Live .No one can die there  there is a place of peace or happiness 
   For more information read book Gyan ganga
   
 @SaintRampalJiM in 8.30 pm https://t.co/yWd2ARDEKA

#whendoesitstop #GreatestGuru_InTheWorld #सतलोक_vs_पृथ्वीलोक Satlok is the eternal place where god kabir Live .No one can die there there is a place of peace or happiness For more information read book Gyan ganga @SaintRampalJiM in 8.30 pm https://t.co/yWd2ARDEKA

#सतलोक_VS_पृथ्वीलोक

सतलोक में बिना किये सब सुख-सुविधा उपलब्ध है।
जबकि पृथ्वी लोक में बिना कर्म किये कोई भी वस्तु प्राप्त नहीं होती।
Eternal place Satlok https://t.co/sYftv8HXAU

#सतलोक_VS_पृथ्वीलोक सतलोक में बिना किये सब सुख-सुविधा उपलब्ध है। जबकि पृथ्वी लोक में बिना कर्म किये कोई भी वस्तु प्राप्त नहीं होती। Eternal place Satlok https://t.co/sYftv8HXAU

#सतलोक_VS_पृथ्वीलोक
पृथ्वी लोक में जन्म-मृत्यु और वृद्धावस्था सबसे बड़े दुख हैं।
जबकि सतलोक में सर्व सुख हैं। न ही जन्म-मृत्यु का दुख, न ही वृद्धावस्था का दुःख।

Eternal place Satlok https://t.co/CYN5WfKnnD

#सतलोक_VS_पृथ्वीलोक पृथ्वी लोक में जन्म-मृत्यु और वृद्धावस्था सबसे बड़े दुख हैं। जबकि सतलोक में सर्व सुख हैं। न ही जन्म-मृत्यु का दुख, न ही वृद्धावस्था का दुःख। Eternal place Satlok https://t.co/CYN5WfKnnD

#सतलोक_VS_पृथ्वीलोक
Eternal place Satlok
गीता जी अध्याय 8 श्लोक 16 के अनुसार पृथ्वी लोक से ब्रह्मलोक तक सभी लोक पुनरावृत्ति में हैं।
लेकिन सतलोक ही वह अमर स्थान है, जहां जाने के बाद साधक की जन्म-मृत्यु नहीं होती।
@SaintRampalJiM 
@Satlokbetul https://t.co/DLEIVTmCMP

#सतलोक_VS_पृथ्वीलोक Eternal place Satlok गीता जी अध्याय 8 श्लोक 16 के अनुसार पृथ्वी लोक से ब्रह्मलोक तक सभी लोक पुनरावृत्ति में हैं। लेकिन सतलोक ही वह अमर स्थान है, जहां जाने के बाद साधक की जन्म-मृत्यु नहीं होती। @SaintRampalJiM @Satlokbetul https://t.co/DLEIVTmCMP

#सतलोक_VS_पृथ्वीलोक
Eternal place Satlok
पृथ्वी लोक एक कैद खाना है। जहाँ पर 21 ब्रह्मांड का स्वामी ज्योति निरंजन काल/ब्रह्म आत्माओं को दुःखी करने के लिए 84 लाख योनियों में उत्पन्न करता है। 
जबकि सतलोक परमेश्वर कविर्देव (कबीर साहेब) का लोक है जो अजर अमर अविनाशी लोक है https://t.co/I0TXCbhW0W

#सतलोक_VS_पृथ्वीलोक Eternal place Satlok पृथ्वी लोक एक कैद खाना है। जहाँ पर 21 ब्रह्मांड का स्वामी ज्योति निरंजन काल/ब्रह्म आत्माओं को दुःखी करने के लिए 84 लाख योनियों में उत्पन्न करता है। जबकि सतलोक परमेश्वर कविर्देव (कबीर साहेब) का लोक है जो अजर अमर अविनाशी लोक है https://t.co/I0TXCbhW0W

#सतलोक_VS_पृथ्वीलोक
Eternal place Satlok
सतलोक कैसा है ?
सतलोक ऐसा अमर लोक है जहां प्रत्येक हंस आत्मा के शरीर का तेज 16 सूर्यों के समान है। जहां सिर्फ पूर्ण गुरु द्वारा बताई गई सतभक्ति से ही जा सकते हैं।
@SaintRampalJiM https://t.co/iJWhA59iVY

#सतलोक_VS_पृथ्वीलोक Eternal place Satlok सतलोक कैसा है ? सतलोक ऐसा अमर लोक है जहां प्रत्येक हंस आत्मा के शरीर का तेज 16 सूर्यों के समान है। जहां सिर्फ पूर्ण गुरु द्वारा बताई गई सतभक्ति से ही जा सकते हैं। @SaintRampalJiM https://t.co/iJWhA59iVY

#सतलोक_VS_पृथ्वीलोक
Eternal place Satlok
पृथ्वी लोक पर प्रत्येक जीव दुःखी है।
सतलोक सुख का सागर है। वहां दुख नाम की कोई चीज़ नहीं। जन्म-मृत्यु नहीं है। बुढ़ापा नहीं है @SaintRampalJiM 
@Satlokbetul https://t.co/tJ5IQ638bm

#सतलोक_VS_पृथ्वीलोक Eternal place Satlok पृथ्वी लोक पर प्रत्येक जीव दुःखी है। सतलोक सुख का सागर है। वहां दुख नाम की कोई चीज़ नहीं। जन्म-मृत्यु नहीं है। बुढ़ापा नहीं है @SaintRampalJiM @Satlokbetul https://t.co/tJ5IQ638bm

#सतलोक_VS_पृथ्वीलोक
Eternal place Satlok
परमात्मा कहते हैं - 
पृथ्वी ऊपर पग जो धारे, करोड़ जीव एक दिन में मारे।
ये काल का लोक है यहाँ पल भर में न जाने कितने पाप कराता है ये काल।
जबकि सतलोक में कोई पाप/ जीव हिंसा नहीं होती। सतलोक सुख सागर है।
@SaintRampalJiM https://t.co/1Uee0ybzX0

#सतलोक_VS_पृथ्वीलोक Eternal place Satlok परमात्मा कहते हैं - पृथ्वी ऊपर पग जो धारे, करोड़ जीव एक दिन में मारे। ये काल का लोक है यहाँ पल भर में न जाने कितने पाप कराता है ये काल। जबकि सतलोक में कोई पाप/ जीव हिंसा नहीं होती। सतलोक सुख सागर है। @SaintRampalJiM https://t.co/1Uee0ybzX0

#सतलोक_VS_पृथ्वीलोक
Eternal place Satlok
पृथ्वी लोक में चींटी से लेकर हाथी तक, रंक से लेकर राजा तक कोई सुखी नहीं है।
सतलोक एकमात्र ऐसा स्थान है जहां राग द्वेष नहीं हैं। जहां किसी वस्तु का अभाव नहीं। जहां सभी प्यार से रहते हैं। जहां बारह मास बंसत रहता है।
@SaintRampalJiM https://t.co/4bi7PXtBtI

#सतलोक_VS_पृथ्वीलोक Eternal place Satlok पृथ्वी लोक में चींटी से लेकर हाथी तक, रंक से लेकर राजा तक कोई सुखी नहीं है। सतलोक एकमात्र ऐसा स्थान है जहां राग द्वेष नहीं हैं। जहां किसी वस्तु का अभाव नहीं। जहां सभी प्यार से रहते हैं। जहां बारह मास बंसत रहता है। @SaintRampalJiM https://t.co/4bi7PXtBtI

#सतलोक_VS_पृथ्वीलोक

पृथ्वी लोक में जन्म-मृत्यु और वृद्धावस्था सबसे बड़े दुख हैं।
जबकि सतलोक में सर्व सुख हैं। न ही जन्म-मृत्यु का दुख, न ही वृद्धावस्था का दुःख।
Eternal place Satlok https://t.co/TrwE0iPkRK

#सतलोक_VS_पृथ्वीलोक पृथ्वी लोक में जन्म-मृत्यु और वृद्धावस्था सबसे बड़े दुख हैं। जबकि सतलोक में सर्व सुख हैं। न ही जन्म-मृत्यु का दुख, न ही वृद्धावस्था का दुःख। Eternal place Satlok https://t.co/TrwE0iPkRK

#सतलोक_VS_पृथ्वीलोक
👇👇👇👇👇👇👇👇
🏡सतलोक निरामय लोक है जहाँ वृद्धावस्था व रोग नहीं है।
जबकि पृथ्वी लोक में इन दोनों स्तिथियों से कोई नहीं बचा है।
Eternal place Satlok https://t.co/HhpSt61IDp

#सतलोक_VS_पृथ्वीलोक 👇👇👇👇👇👇👇👇 🏡सतलोक निरामय लोक है जहाँ वृद्धावस्था व रोग नहीं है। जबकि पृथ्वी लोक में इन दोनों स्तिथियों से कोई नहीं बचा है। Eternal place Satlok https://t.co/HhpSt61IDp

#सतलोक_VS_पृथ्वीलोक
🏡सतलोक कैसा है ?
सतलोक ऐसा अमर लोक है जहां प्रत्येक हंस आत्मा के शरीर का तेज 16 सूर्यों के समान है। जहां सिर्फ पूर्ण गुरु द्वारा बताई गई सतभक्ति से ही जा सकते हैं।

Eternal place Satlok https://t.co/0mokQ5MAfU

#सतलोक_VS_पृथ्वीलोक 🏡सतलोक कैसा है ? सतलोक ऐसा अमर लोक है जहां प्रत्येक हंस आत्मा के शरीर का तेज 16 सूर्यों के समान है। जहां सिर्फ पूर्ण गुरु द्वारा बताई गई सतभक्ति से ही जा सकते हैं। Eternal place Satlok https://t.co/0mokQ5MAfU

गरीब, अजब नगर में ले गया हमको सतगुरु आन परम शांति केवल सतलोक में ही है। - संत रामपाल जी महाराज Eternal place Satlok, #सतलोक_VS_पृथ्वीलोक https://t.co/tlnlzMUQqO

#सतलोक_VS_पृथ्वीलोक 
संत  गरीबदास जी की वाणी मैं वर्णन किया गया है कि सतलोक में कितना सूख है अधिक जानकारी के लिए देखें सत्संग साधना चैनल पर शाम 7:30 से 8:30 तक[स्वर्ग लोक मृत्यु लोक में हर चीज नष्ट होने वाली है हर चीज नाशवान है। https://t.co/93rkHnTXZr

#सतलोक_VS_पृथ्वीलोक संत गरीबदास जी की वाणी मैं वर्णन किया गया है कि सतलोक में कितना सूख है अधिक जानकारी के लिए देखें सत्संग साधना चैनल पर शाम 7:30 से 8:30 तक[स्वर्ग लोक मृत्यु लोक में हर चीज नष्ट होने वाली है हर चीज नाशवान है। https://t.co/93rkHnTXZr

Next Page